teachers day in hindi 2019|शिक्षक दिवस पर भाषण

0
409
teachers day in hindi 2019

teachers day in hindi 2019: भारत में हर साल पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन 5 सितम्बर को शिक्षक दिवस यानी कि टीचर्स डे के रूप में मनाया जाता है. और विश्व शिक्षक दिवस जो इंटरनेशनल टीचर्स डे के नाम से भी जाना जाता है

5 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है, जिसे यूनेस्को ने साल 1994 में मनाने की घोषणा की थी, teachers day in hindi

एक खास बात यह भी है कि शिक्षक दिवस विश्व के अधिकांश देशों में मनाया जाता है लेकिन इसके मनाए जाने के दिन अलग-अलग निर्धारित किए गए हैं.

जैसे पाकिस्तान में 5 अक्टूबर को टीचर्स डे मनाया जाता है, चीन में यह दिन 10 सितंबर को मनाया जाता है.

आइए आपको टीचर्स डे क्या है, शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है, और 5 सितंबर को Teachers Day क्यों मनाया जाता है, और कब मनाया जाता है, यानि की हम आपको teachers day in hindi 2019 के बारे में बताने वाले हैं, आइए सबसे पहले आपको डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन कौन थे और उनके जन्मदिन के दिन ही शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है इसके बारे में आपको बताते हैं।

शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है

देश के पहले उपराष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर 1988 को हुआ था और वह भारतीय संस्कृति के संवाहक, एक महान दार्शनिक और प्रख्यात शिक्षाविद थे अगर बात की जाए सर्वपल्ली राधाकृष्णन की तो वे बहुत बड़े विद्वान, प्रसिद्ध राज नायिक बहुत बड़े शिक्षक और गहरी सोच और गहरे विश्वाश वाले व्यक्ति थे।

राजनीति में कदम रखने से पहले डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन एक सम्मानित अकादमिक थे और पहले कई कॉलेजों में प्रोफेसर भी रह चुके थे।
साथ ही साथ वे:

1936 से 1952 तक ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में प्राध्यापक रहे।

1937 से 1941 तक जॉर्ज पंचम कॉलेज (कोलकाता विश्वविद्यालय) में प्रोफेसर के रूप में काम किया।

1946 में यूनेस्को में भारतीय प्रतिनिधि के रूप में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

और जब डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी भारत के दूसरे राष्ट्रपति बने, तब उनके विद्यार्थियों और मित्रों ने उन से अनुरोध करते हुए कहा की वे सब 5 सितंबर 1962 को उनके जन्मदिन को जश्न के रूप में मनाना चाहते है।

इस बात पर डॉ राधाकृष्णन ने कहा कि मुझे उस समय ज्यादा खुशी होगी और मैं गर्व महसूस करूंगा, अगर मेरे जन्मदिन को भारत के शिक्षकों के लिए शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए।

वह अपने जन्मदिन के रूप में इस दिन सभी शिक्षकों को सम्मान देना चाहते थे और यह एहसास दिलाना चाहते थे कि शिक्षकों का इस दुनिया में कितना ज्यादा महत्व है और तभी से सन 1962 से हर साल 5 सितंबर को डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस भारत में कैसे मनाया जाता है

दोस्तों शिक्षक दिवस का भारत में विशेष महत्व है इस दिन को पूरे भारत में काफी शान से मनाया जाता है, 5 सितंबर के दिन सभी स्कूलों और कॉलेजों में शिक्षक दिवस का उत्साह देखने को मिलता है कई स्कूलों कॉलेजों में मनोरंजक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाता है.

शिक्षकों के लिए कई मजेदार गेम्स और नाटकों का आयोजन किया जाता है वही विद्यार्थी अपने पसंदीदा शिक्षकों को उपहार व गिफ्ट भी भेंट करते हैं तथा उनके पैर छूकर आशीर्वाद लेते हैं।

इस दिन शिक्षकों को आराम दिया जाता है तथा स्कूल कॉलेजों के सीनियर छात्र अपने अपने पसंदीदा टीचर्स की भूमिका निभाते हुए उनकी खूबियां बताते हैं, स्कूलों में छात्र अध्यापक बनकर उनकी वेशभूषा धारण करके विद्यालयों में पहुंचते हैं.

और पूरे दिन कोशिश की जाती है कि शिक्षको का ध्यान रखा जाए और उन्हें बस दिन भर खुशियां दी जाएं, उनका दिल से आदर और सम्मान किया जाए तथा वे शिक्षकों को धन्यवाद करते हुए, उनका महत्व बताते हैं कि आप हमारे लिए कितने जरूरी हैं।

शिक्षक दिवस पर भाषण (Teachers’ Day Speech)
 

आदरणीय शिक्षकों और मेरे प्यारे मित्रों को सुप्रभात,

आज शिक्षक दिवस है और मैं आप सभी को इस दिन की शुभकामनाएं देता/देती हूं. हर साल की तरह इस साल भी हम सब इस दिन को सेलिब्रेट करने के लिए एकत्रित हुए हैं. मैं अपने सभी शिक्षकों को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने मुझे इतना ज्ञान प्रदान किया और समय-समय पर अपने मार्गदर्शन से आदर्श नागरिक बनने में मेरी मदद की. शिक्षक दिवस हर साल 5 सितंबर को मनाया जाता है.

इस दिन देश के पहले उप-राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिवस होता है जो कि एक शिक्षक थे.  एक बार उनके कुछ विद्यार्थी और दोस्तों ने उनसे कहा कि, वह उनके जन्मदिन को सेलिब्रेट करना चाहते हैं.

तब उन्होंने कहा था, “मेरा जन्मदिन अलग से मनाने के बजाए अगर मेरा जन्मदिन शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए तो मुझे गर्व महसूस होगा.” तब से ही हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है. शिक्षक हमारे समाज की रीढ़ की हड्डी होते हैं. किसी ने सही कहा कि, शिक्षक अभिभावकों से भी महान होता है.

अभिभावक बच्चे को जन्म जरूर देते हैं लेकिन शिक्षक उसके चरित्र को आकर देकर उज्ज्वल भविष्य बनाते हैं. इसीलिए चाहे हम कितने भी बड़े और सफल हो जाए हमें अपने शिक्षकों को नहीं भूलना चाहिए. शिक्षक हमारी प्रेरणा के स्रोत होते हैं जो हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं.

वे हमें जीवन में आने वाली हर एक बाधा का सामना करने के लिए तैयार करते हैं. शिक्षक हमें दुनियाभर के महान शख्सियतों का उदाहरण देकर शिक्षा की ओर प्रोत्साहित करते हैं. मैं आपको अपने भाषण को सुनने के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं और इसी के साथ एक शायरी पढ़कर मैं अपनी वाणी को विराम देना चाहता हूं/चाहती हूं.

Teachers Day Quotes

जो बनाए हमें इंसानऔर दे सही-गलत की पहचानदेश के उन निर्माताओं कोहम करते हैं शत-शत प्रणाम!
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।

साक्षर हमें बनाते हैंजीवन क्या है समझाते हैंजब गिरते हैं हम हार कर तो साहस वही बढाते हैं

teachers day in hindi 2019

किया भविष्य के लिए तैयार हमेंहैं आभारी उन गुरुओं के हम

जीने की कला सिखाते शिक्षकज्ञान की कीमत बताते शिक्षक

Navratri Kab Hai 2019 me? दुर्गा पूजन की तिथि

Ganesh Chaturthi 2019- puja vidhi ,Time ,Date in Hindi

Bigg Boss 13 पहले प्रोमो में सलमान खान दिखे नये अंदाज़ में

Saaho Movie Download in Hindi

ye post social site se leya gaya hai

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here